Seekers will always find a way to get to the truth and the only way to truth is through knowledge. But how is one supposed to get knowledge? The answer is simple: by being curious;and the best part about being curious is that it feels like being a kid again. Welcome to my blog, where I present to you my knowledge comprising interesting facts, narratives,descriptions and imagery in the most concise way possible. Stay curious folks!

Haryana's Girl Manushi Chillar- Miss World 2017 (in Hindi)

मानुषी चिल्लर का जन्म 14 मई 1997 में हरयाणा में हुआ था | उनके पिता डॉक्टर मित्र बासु चिल्लर भारतीय सरकार के डिफेन्स रिसर्च एंड डेवलपमेंट आर्गेनाईजेशन में वैज्ञानिक है और उनकी माँ डॉक्टर नीलम चिल्लर Associate प्रोफेसर है जो की साथ ही हेड ऑफ़ डिपार्टमेंट Neurochemistry, Institute of Human Behavior and Allied Sciences है |

मानुषी चिल्लर का जन्म 14 मई 1997 में हरयाणा में हुआ था | उनके पिता डॉक्टर मित्र बासु चिल्लर भारतीय सरकार के डिफेन्स रिसर्च एंड डेवलपमेंट आर्गेनाईजेशन में वैज्ञानिक है और उनकी माँ डॉक्टर नीलम चिल्लर Associate प्रोफेसर है जो की साथ ही हेड ऑफ़ डिपार्टमेंट Neurochemistry, Institute of Human Behavior and Allied Sciences है |



मानुषी ने अपनी पढाई दिल्ली के St. Thomas School से की और अभी वो सोनीपत के भगत फूल सिंह गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज से अपनी पढाई कर रही है | इसके साथ ही उन्होंने नेशनल स्कूल ऑफ  ड्रामा में भी पढाई की है और साथ ही नामी डांसर्स से डांस भी सिखा है | वह एक अच्छी कुचिपुड़ी डांसर भी है |


इससे पहले चिल्लर ने जून 2017 में मिस इंडिया का ख़िताब भी अपने नाम किया था | इसके साथ उन्हें मिस फोटोजेनिक का ख़िताब भी दिया गया था | जिसके बाद उन्होंने मिस वर्ल्ड प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व करने का गौरव भी हासिल किया और अब उन्होंने मिस वर्ल्ड का ख़िताब भी अपने नाम करा | वह ऐसा करने वाली 6 भारतीय महिला है | अंतिम बार प्रियंका चोपरा ने वर्ष 2000 में यह ख़िताब अपने नाम किया था |


मिस वर्ल्ड प्रतियोगिता में वह तीन श्रेणीयों में सेमीफाइनल में पहुंची थी जो की टॉप मॉडल, लोगो की पसंद और मल्टीमीडिया कम्पटीशन है | उन्होंने संयुक्त रूप से Beauty with Purpose का ख़िताब भी जीता इसमें उनके प्रोजेक्ट का नाम प्रोजेक्ट शक्ति था | इस प्रोजेक्ट के लिए उन्होंने करीब 20 गाँव में घुमा और करीब 5000 महिलाओ से भी मुलाकात की | इस प्रोजेक्ट का उदेश महिलाओ को Menstrual Hygiene के प्रति जागरूक करना था |



मानुषी से पहले रीता फ़रिया (1966), ऐश्वर्या राय (1994), डायना हेडन (1997), युक्ता मुखी (1999), प्रियंका चोपरा (2000) यह ख़िताब अपने नाम कर चुकी है |

Post a Comment

[blogger][facebook]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget