Seekers will always find a way to get to the truth and the only way to truth is through knowledge. But how is one supposed to get knowledge? The answer is simple: by being curious;and the best part about being curious is that it feels like being a kid again. Welcome to my blog, where I present to you my knowledge comprising interesting facts, narratives,descriptions and imagery in the most concise way possible. Stay curious folks!

Dr. Abdul Kalam Island

Dr. APJ Abdul Kalam Island, ओडिशा के पास है | ये भुबनेश्वर से करीब 150 किलो मीटर के दुरी पे बंगाल की खाड़ी में है | इस आइलैंड को पहले व्हीलर टापू के नाम से भी जाना जाता था | पर 4 सितम्बर 2015 को भारत के भारत के 11 वे राष्ट्रपति के सम्मान में इसका नाम अब्दुल कलाम आइलैंड रख दिया गया | इसका पुराना नाम व्हीलर आइलैंड भी इंग्लिश कमांडर व्हीलर के नाम पे रखा गया था | इस टापू के लम्बाई करीब 2 किलो मीटर की है | और इसके सबसे नजदीक में धामरा पोर्ट स्थित है


Dr. APJ Abdul Kalam Island, ओडिशा के पास है | ये भुबनेश्वर से करीब 150 किलो मीटर के दुरी पे बंगाल की खाड़ी में है | इस आइलैंड को पहले व्हीलर टापू के नाम से भी जाना जाता था | पर 4 सितम्बर 2015 को भारत के भारत के 11 वे राष्ट्रपति के सम्मान में इसका नाम अब्दुल कलाम आइलैंड रख दिया गया | इसका पुराना नाम व्हीलर आइलैंड भी इंग्लिश कमांडर व्हीलर के नाम पे रखा गया था | इस टापू के लम्बाई करीब 2 किलो मीटर की है | और इसके सबसे नजदीक में धामरा पोर्ट स्थित है |



यहाँ पर एक मिसाइल टेस्टिंग रेंज भी है | जब भारतीय सरकार ने एक ऐसी सगाह के खोज करनी चालू की जहाँ भारतीय फ़ौज के लिए मिसाइल बनाई जा सके साथ ही साथ उनका निरिक्षण भी किया जा सके तब, इस जगह को सरकार ने इस काम के लिए उपयुक्त पाया | यही पर अग्नि मिसाइल सीरीज का निरिक्षण सन 1980 में होना चालू हुआ था | उस समय इस टापू पे बस सेना को ही जाने की इजाजत होती थी |



सन 1993 में डॉ कलाम के अनुरोध पर इस टापू को ओडिशा सरकार ने DRDO (Defence Research and Development Organisation) को दे दिया | इस टापू पे देश की सबसे ज्यादा मिसाइलों का test होता है जैसे की आकाश मिसाइल, अस्त्र मिसाइल, निर्भय, ब्रह्मोस, शौर्य मिसाइल, पृथ्वी मिसाइल |


इस टापू पे सबसे पहले 1993 में पृथ्वी मिसाइल का सफलतापूर्वक निरिक्षण किया गया था | उस समय इस टापू को सामान्य लोगो के लिए बंद कर दिया गया था | उस वक़्त केवल DRDO के लोग या सेना के अधिकारी ही इस टापू पे जा सकते थे |


यह उन सभी मिसाइलों की सूची है जो की इस टापू से test हुई है



  
Launch Date
Origin
Missile
Type
Operator
Range
Akash
 24 May 2012


 26 May 2012


 6 June 2012


 21 February 2014


 24 February 2014


 26 February 2014


 2 May 2014


 19 June 2014


 18 November 2014
India
25 – 50 km
Agni
 28 March 2010


 25 November 2010


 1 December 2011


 13 July 2012


 12 December 2012


 8 November 2013


 11 April 2014


 11 September 2014
700 – 1,250 km
 23 November 2009



 17 May 2010


 10 December 2010


 15 November 2011


 30 September 2011


 9 August 2012


 7 April 2013


 9 November 2014
2,000 – 3,000 km
 12 April 2007


 7 February 2010


 23 July 2011


 19 August 2012


 21 September 2012


 23 December 2013


 16 April 2015
3,500 – 5,000 km
 19 September 2012


 20 January 2014


 2 December 2014
3,000 – 4,000 km
 19 April 2012


 15 September 2013


 31 January 2015


 26 December 2016
5,000 – 8,000 km
Astra
 6 July 2010


 21 May 2011


 21 December 2012


 19 March 2015
50 – 100 km
BrahMos
 30 March 2012


 29 July 2012


 8 July 2014
300 – 500 km
Nirbhay
 12 March 2013


 17 October 2014
1,000 – 1,500 km
Prahar
 21 July 2011
150 – 200 km
Prithvi
 15 March 2010


 6 March 2011
150 – 200 km
 12 October 2009


 13 December 2009


 27 March 2010


 18 June 2010


 24 September 2010


 10 February 2011


 26 September 2011


 4 October 2012


 5 October 2012


 20 December 2012


 12 August 2013


 7 October 2013


 3 December 2013


 7 January 2014


 14 November 2014


 19 February 2015
250 – 350 km
Shaurya
 12 November 2008



 24 September 2011
700 – 2,000 km
Advanced Air Defence
 15 March 2010


 26 July 2010


 6 December 2007


 6 March 2011


 23 November 2012
150 – 200 km
Prithvi Air Defence
 27 April 2014
2000 km


Post a Comment

[blogger][facebook]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget